बिज़नेस
कैश सेगमेंट में 1.12 लाख करोड़ और बाजार हैसियत में 1.38 लाख करोड़ की बढ़ोतरी
By Swadesh | Publish Date: 22/4/2019 11:17:17 AM
कैश सेगमेंट में 1.12 लाख करोड़ और बाजार हैसियत में 1.38 लाख करोड़ की बढ़ोतरी

मुंबई। पिछले कारोबारी सप्ताह के दौरान करेंसी डेरिवेटिव्स सेगमेंट में कुल 93,544.24 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है। बीएसई पर कैश सेगमेंट में 9,338.60 करोड़ रुपये औऱ एनएसई पर 1,02,822.73 करोड़ रुपये का टर्नओवर हुआ है। कैश सेगमेंट मार्केट में संयुक्त रूप से कुल 1,12,161.33 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ। इसके अलावा बाजार में आई तेज उछाल के कारण इस सप्ताह बाजार हैसियत में भी 1.38 लाख करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है।

मार्केट कैप 153 लाख करोड़ पहुंचा
पिछले कारोबारी सप्ताह के दौरान करेंसी डेरिवेटिव्स में कुल 93,544.24 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है। गुरुवार (18 अप्रैल, 2019) को सर्वाधिक 31,929.55 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है। बीएसई के बाजार के कैश सेगमेंट में कुल 2,986.82 करोड रुपये का टर्नओवर रहा है। बीएसई में इस सप्ताह के अंत में मार्केट कैपिटलाइजेशन 153.53 लाख करोड़ रुपये हो गया है। विगत सप्ताह मार्केट कैप 152.15 लाख करोड़ रुपये रहा था। पिछले कारोबारी सप्ताह की तुलना में इस सप्ताह बाजार पूंजीकरण में 1.38 लाख करड़ रुपये का इजाफा हुआ है। 

उतार-चढ़ाव: 
कारोबारी सप्ताह के दौरान शेयर बाजार में बी ग्रुप की 81 कंपनियों में से 43 कंपनियों पर नीचे का सर्किट ब्रेकर लगा है, जबकि 38 कंपनियों पर ऊपर का सर्किट ब्रेकर लगा है। इसके अलावा ए ग्रुप की 461 कंपनियों में से 216 कंपनियों के भाव में बढ़ोतरी दर्ज की गई है, तो वहीं 243 कंपनियों के भाव घटे हैं। इस दौरान ए ग्रुप की 2 कंपनियों के भाव यथावत रहे हैं। बी ग्रुप की 928 कंपनियों में से 355 कंपनियों के भाव में बढ़ोतरी हुई है, जबकि 555 कंपनियों के भाव घटे हैं और 18 कंपनियों के भाव यथावत रहे हैं। 
 
स्मॉलकैप की घाटे में हैं 511 कंपनियां:
बीएसई 100 की 61 कंपनियों के शेयरों में बढ़त देखी गई, जबकि 40 कंपनियों के भाव घटे हैं। बीएसई 200 सूचकांक की 110 कंपनियां बढ़ी हैं, जबकि 91 कंपनियां घटी हैं। बीएसई 30 सूचकांक की 21 कंपनियों के भाव बढ़े हैं और 10 कंपनियों के भाव गिरे हैं। इसी तरह, बीएसई 500 सूचकांक की 233 कंपनियों के शेयर्स बढ़त बनाने में सफल रहे, जबकि 266 कंपनियां गिरावट में कारोबार करती रही हैं। मिडकैप इंडेक्स की 45 कंपनियों ने मुनाफा कमाया है, जबकि 60 कंपनियों में गिरावट से निवेशकों को घाटा हुआ है। स्मॉलकैप सेक्टर की 331 कंपनियों के शेयर्स में उछाल आई है, जबकि 511 कंपनियों के भाव में गिरावट आई है। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS